RBI Ki Guidelines: आपके पास भी है 500 और 2000 के नोट तो जान लें RBI की नई गाइडलाइन

RBI Ki Guidelines: आज के समय में भारत के प्रत्येक उम्मीदवार के पास 500 और ₹2000 के नोट होंगे अगर आपके पास भी 500 और ₹2000 के नोट पड़े हुए हैं तो आपके लिए आज का लेख काफी महत्वपूर्ण होने वाला है क्योंकि 500 और ₹2000 के नोट को लेकर आरबीआई के द्वारा नई गाइडलाइंस जारी की गई है। रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया के द्वारा 500 और ₹2000 के नोटों को इस्तेमाल करने वाले उम्मीदवारों के सामने बड़ी महत्वपूर्ण खबर पेस की गई है |

इसमें कहा गया है कि पिछले 1 वर्ष में करेंसी इन सर्कुलेशन में 500 रुपए के नकली नोट डबल हो गए हैं जबकि ₹2000 के नोटों में भी डेढ़ गुना बढ़ोतरी देखी गई है। आरबीआई द्वारा कहा गया है कि 500 और ₹2000 के नोटों का इस्तेमाल करने वाले सभी उम्मीदवारों को सावधान रहना चाहिए क्योंकि वित्त वर्ष 2021-22 में देश में करेंसी इन सर्कुलेशन में जाली नोटों में भारी बढ़ोतरी देखने के लिए मिल रही है।

RBI Ki Guidelines

रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया के द्वारा सभी 500 और ₹2000 के नोटों का इस्तेमाल करने वाले उम्मीदवारों को सावधान करते हुए कहा गया है कि वित्तीय वर्ष 2021-22 में सबसे अधिक बढ़ोतरी ₹500 के नोटों में देखने के लिए मिल रही है नवीनतम समाचार के अनुसार इस वर्ष ₹500 के नोटों में 102 फ़ीसदी का उछाल देखने के लिए मिला है वही अगर ₹2000 के नोटों की भी बात की जाए तो ₹2000 की जाली नोटों में भी काफी बढ़ोतरी देखने के लिए मिली है इस वर्ष की रिपोर्ट के अनुसार ₹2000 के नोटों में 52 फ़ीसदी का उछाल आया है।

मीडिया रिपोर्ट द्वारा प्राप्त जानकारी के अनुसार वर्ष 2022 में सबसे अधिक जाली नोटों में बढ़ोतरी देखने के लिए मिली है क्योंकि अगर 500 और ₹2000 के नोटों के बजाय अदर नोटों की बात की जाए तो 10 रुपए के जाली नोट में 16.4 फीसदी, 20 रुपए के जाली नोट में 16.5 फीसदी, 200 रुपए के जाली नोट में 11.7 फीसदी का उछाल आया है।

50 और ₹100 की जाली नोटों में आई गिरावट

आरबीआई द्वारा जारी की गई नई गाइडलाइंस में एक तरफ देखा जा रहा है कि वित्तीय वर्ष 2021-22 में 500 और ₹2000 के जाली नोटों में भारी बढ़ोतरी की देखने के लिए मिल रही है क्योंकि ₹500 के जाली नोटों में 102 फ़ीसदी का उछाल आया है और ₹2000 की जाली नोटों में 52 फ़ीसदी का उछाल आया है वहीं दूसरी तरफ यह भी देखा जा रहा है कि ₹50 और ₹100 के कि जाली नोटों में काफी गिरावट देखने के लिए मिली है |

नवीनतम समाचार के अनुसार वित्तीय वर्ष 2022 में 50 रुपए की जाली नोटों में सालाना आधार पर 28.7 और ₹100 के जाली नोटों में 16/7 हिंदी ग्रामर देखने के लिए मिल रही है इन नोटों में गिरावट इसलिए आई है क्योंकि देखा जा रहा है कि 50 और ₹100 के नोटों का इस्तेमाल बहुत कम किया जा रहा है।

₹500 के नोट में हिस्सेदारी सबसे ज्यादा

भारत में चलने वाली अगर नोटों की बात की जाए तो वैल्यू के आधार पर करेंसी कैंसर के लिए सर में सबसे अधिक बेली 500 और ₹2000 के नोटों की है क्योंकि सबसे ज्यादा इस्तेमाल भारत में इन्हीं नोटों का किया जा रहा है जानकारी के अनुसार 500 और ₹2000 के नोट्स की हिस्सेदारी 87.1 फीसदी है।

ढलते हुए समय के साथ 500 और ₹2000 के नोटों की फीस दी में काफी उछाल आ रहा है क्योंकि 31 मार्च 2021 को दर्ज की गई जानकारी के अनुसार उस समय ₹500 और ₹2000 के नोटों की हिस्सेदारी 85.7 फीसदी थी। वहीं पर अगर करेंसी इन सरकुलेशन के आधार पर इन नोटों की वॉल्यूम की बात की जाए तो 500 रुपए के नोट्स का शेयर 34।9 फीसदी है। उसके बाद 10 रुपए के नोट्स का शेयर 21.3 फीसदी है।

कैसे करें असली या नकली नोट की पहचान ?

अगर आप भी 500 और ₹2000 के जाली नोटों को पहचानने के लिए उत्सुक हैं तो आप सभी के लिए बता दें आरबीआई द्वारा जारी की गई गाइडलाइंस के अनुसार बताया गया है कि ₹500 के असली नोटों को कुछ चीजों से पहचाना जा सकता है। अगर आप भी ₹500 के असली और नकली नोटों को पहचानना चाहते हैं तो आपके लिए बता दें ₹500 का असली नोट की पहचान के लिए आपको ₹500 के नोट के सामने तरफ 500 अंक देवनागरी में लिखा लिखा हुआ मिल जाएगा।

वहीं अगर इस नोट के बीच की बात की जाए तो इस नोट के बीच में आपको महात्मा गांधी की तस्वीर देखने के लिए मिल जाएगी साथ ही इस नोट में माइक्रो लेटर से भारत और इंडिया भी लिखा होता है।₹500 के असली नोट में आपको भारत और इंडिया के बीच रंग बदलने वाला धागा देखने के लिए मिल जाएगा। अगर आप असली ₹500 के नोट को झुकाएंगे तो सिक्योरिटी थ्रेड का रंग हरे से नीले में बदल जाएगा।

आरबीआई द्वारा क्या गाइडलाइंस जारी की गई है ?

आरबीआई द्वारा जारी की गई नई गाइडलाइंस के तहत इस वर्ष 500 और ₹2000 के जाली नोटों में काफी वृद्धि देखने के लिए मिली है।

₹500 और ₹2000 के जाली नोटों में कितना उछाल देखने के लिए मिला है ?

मीडिया रिपोर्ट द्वारा प्राप्त जानकारी के अनुसार वित्तीय वर्ष 2021-22 वर्ष में ₹500 के नोटों में 102 फ़ीसदी और ₹2000 के नोटों में 52 फ़ीसदी का उछाल देखने के लिए मिला है।

Leave a Comment