Sahara India Pariwar: फसा हुआ पैसा मिलना शुरू, ऐसे निकाल सकते है पैसा वापिस

Sahara India Pariwar News Today: सहारा इंडिया देश की जानी मानी हुई प्रचलित प्रतिष्ठित कंपनियों में से एक है जिसमें निवेश करने के दौरान प्रत्येक निवेशकों के लिए ब्याज सहित दोगुनी राशि वापिस करने का प्रावधान निर्धारित किया गया था जिसके पश्चात हमारे देश के लाखों निवेशकों ने करोड़ों रुपए की राशि का निवेश किया हुआ है लेकिन वक्त रहते समय पर किसी भी उम्मीदवार का पैसा वापस नहीं किया गया जिसका खामियाजा प्रत्येक उम्मीदवार लगभग 12 वर्षों से भुगत रहे हैं और सहारा इंडिया रिफंड राशि वापस आने के इंतजार में जो कि इस वर्ष राशि प्राप्त करने के लिए आपके सामने एक उम्मीद की किरण नजर आ रही है जिसकी संपूर्ण विस्तृत जानकारी इस लेख में प्रदान की गई है इसलिए इस लेख को अंतिम तक अवश्य पढ़ें।

Sahara India Pariwar

सहारा इंडिया निवेशकों के सामने इस वक्त की बड़ी खबर सामने निकल कर आ रही है क्योंकि सहारा इंडिया के मालिक सुब्रत राय द्वारा प्रत्येक निवेशकों के लिए बड़ी महत्वपूर्ण जानकारी प्रदान की गई है जिसमें कहा गया है कि लगभग मार्च-अप्रैल 2023 के मध्य तक निवेशकों को लगभग 10% ब्याज के साथ संपूर्ण राशि प्रदान की जाएगी इसी के साथ साथी उनके बयान द्वारा बताया गया कि सहारा इंडिया में फंसी हुई राशि को कितने दिनों तक इसलिए रोक कर रखा गया था क्योंकि सहारा इंडिया के एजेंटों द्वारा जमा की गई राशि को भारतीय मार्केट रेगुलेटर सेबी के पास जमा नहीं किया गया था लेकिन अब उन राशि मिलने के पश्चात जल्द से जल्द निवेशकों को उनकी राशि लौटाई जाएगी।

Sahara India Pariwar refund Policy

सहारा इंडिया में निवेश करने वाले सभी निवेशकों के लिए निवेश की हुई राशि को रिफंड प्राप्त करने हेतु एक उम्मीद की किरण नजर आ रही है क्योंकि सहारा इंडिया के द्वारा रिफंड प्रक्रिया को प्रारंभ कर दिया गया है आप सभी उम्मीदवारों के लिए बता दे सहारा इंडिया के द्वारा संचालित दो कंपनियों के द्वारा हाल ही में अभी 138 करोड़ों रुपए की राशि का रिफंड किया गया है जो कि यह राशि सिर्फ उन्हीं उम्मीदवारों के खाते में ट्रांसफर की जा रही है जिन्होंने सहारा इंडिया में 1 करोड़ रुपए से अधिक की राशि का निवेश किया हुआ था ऐसे में आप भी यह राशि प्राप्त करने के लिए अपने नजदीकी जिला पदाधिकारी की सहायता ले सकते हैं |

भारत सरकार द्वारा प्रदान की गई जानकारी

सहारा इंडिया में निवेश करने वाले निवेशकों की फंसी हुई राशि को रिफंड प्रदान करने के लिए भारत सरकार द्वारा विभिन्न प्रकार के प्रयास किए जा रहे हैं जो किसी कार्य में प्रयासरत भारत सरकार द्वारा सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर सहारा इंडिया परिवार द्वारा संचालित कंपनियों के तहत ₹1000 करोड़ का जुर्माना लगाया गया है जिसके पश्चात अब भारतीय मार्केट रेगुलेटर सेबी के द्वारा तत्काल में संपूर्ण निवेशकों को 10% ब्याज के साथ रिफंड राशि वापस प्रदान करने का फैसला लिया गया है जो कि अब उम्मीद जताई जा रही है कि लगभग मार्च 2023 के अंतिम सप्ताह तक प्रत्येक निवेशकों के खाते में संपूर्ण राशि रिफंड कर दी जाएगी।

मीडिया रिपोर्टस द्वारा प्राप्त जानकारी के अनुसार सहारा इंडिया रियल एस्टेट कॉर्पोरेशन लिमिटेड (SIRECL) ने 232.85 लाख निवेशकों से 19400.87 करोड़ रुपये और सहारा हाउसिंग इन्वेस्टमेंट कॉरपोरेशन लिमिटेड ने 75.14 लाख निवेशकों से 6380.50 करोड़ रुपये जमा किए थे जिसमें से सहारा इंडिया अभी तक केवल 138 करोड रुपए की राशि को ही रिफंड कर पाया है जो कि सहारा इंडिया द्वारा न्यू नोटिस जारी किया गया है कि सारा इंडिया संपूर्ण निवेशकों की पूर्ण राशि को वापस करना चाहता है लेकिन इस राशि को मार्केट रेग्युलेटर सेबी (SEBI) ने ये पैसे अपने पास रख लिया है।

चक्कर काटने को मजबूर हो रहे लोग

सहारा इंडिया परिवार की स्कीम के तहत निवेश करने वाले सभी निवेशक रिफंड राशि को प्राप्त करने के लिए चक्कर काटने के लिए मजबूर है क्योंकि मीडिया रिपोर्ट्स द्वारा प्राप्त जानकारी के अनुसार सभी निवेशकों का कहना है कि उन्हें अभी किसी भी प्रकार की मूलभूत राशि को रिफंड नहीं किया गया है इधर भारतीय प्रतिभूति एवं विनिमय बोर्ड (सेबी) ने सहारा समूह की कंपनी सहारा हाउसिंग इन्वेस्टमेंट कॉरपोरेशन (SHIC), उसके प्रमुख सुब्रत राॅय और अन्य को नोटिस भेजा है‌ इसमें सेबी ने उन्हें 15 दिन के अंदर 6.48 करोड़ रुपये जमा करने के लिए कहा है जिसके पश्चात आप उम्मीद जताई जा रही है कि जल्द से जल्द निवेशकों को रिफंड राशि वापिस की जाएगी।

जारी हुई रिफंड राशि किन उम्मीदवारों के लिए प्रदान की जा रही हैं?

सहारा इंडिया में एक करोड़ से ऊपर का निवेश करने वाले प्रत्येक नागरिकों से खाते में रिफंड राशि प्रदान की जा रही है।

सहारा इंडिया परिवार पर कितनी राशि का रिफंड किया गया है?

सहारा इंडिया संपूर्ण राशि में से अभी तक कुल मिलाकर 138 करोड रुपए की राशि को ही रिफंड कर पाया है।

Leave a Comment